LIC Jeevan Akshay 857 Details in Hindi | एलआईसी जीवन अक्षय 857 की जानकारी हिंदी में

  • आज हम चर्चा करेंगे एलआईसी के पेंशन प्लान LIC Jeevan Akshay 857 के बारे में जिसका टेबल नंबर है 857
  • यह एक फिक्स्ड बेनिफिट प्लान है जिसमें पॉलिसी लेने वाले को पॉलिसी लेते समय ही पता होता है कि उसको पूरे जीवन भर कितना पेंशन मिलेगा।
  • यह एक सिंगल प्रीमियम और Immediate Annuity प्लान है, इसका मतलब है कि बीमा धारक को केवल एक बार प्रीमियम का भुगतान करना है और उसे पूरे जीवन भर पेंशन मिलती रहेगी।
  • इस प्लान को हम सिंगल प्रीमियम पेंशन प्लान भी कह सकते हैं। क्योंकि बीमा धारक के पॉलिसी खरीदने के बाद से ही उसके चुने गए मोड के अनुसार उसको पेंशन मिलना शुरू हो जाती है।
  • LIC Jeevan Akshay 857 में पेंशन के चार मोड उपलब्ध हैं -ईयर ली, हाफ इयरली, क्वार्टर ली और मंथली। बीमा धारक डिश मोड का चुनाव करेंगे उसके अनुसार उन्हें पेंशन मिलना शुरू हो जाएगी। उदाहरण के लिए अगर बीमा धारक ने मंथली मोड का चुनाव किया है तो उसको एक महीने बाद से ही पेंशन मिलना शुरू हो जाएगी, उसी प्रकार क्वार्टरली मोड में 3 महीने बाद, हाफ इयरली मोड में 6 महीने बाद, और ईयरली मोड में सालाना यानी साल में एक बार।

LIC Jeevan Akshay 857 Annuity Options –

LIC Jeevan Akshay 857 Details in Hindi
LIC Jeevan Akshay 857 Details in Hindi

LIC Jeevan Akshay 857 में पेंशन लेने के लिए आपको 10 ऑप्शन मिल जाते हैं जिनमें से पॉलिसी लेते समय आपको किसी एक ऑप्शन का चुनाव करना होता है। ऑप्शन ए से लेकर G तक सिंगल लाइफ की कवरेज है। ऑप्शन H से ऑप्शन J तक जॉइंट लाइफ की कवरेज है।

यदि पॉलिसी लेते समय आप ऑप्शन F या ऑप्शन J का चुनाव करते हैं तो पॉलिसी धारक के बाद आपके द्वारा जमा कराया गया प्रीमियम नॉमिनी को वापस मिल जाएगा। उदाहरण के लिए यदि आपने पॉलिसी लेते समय सिंगल प्रीमियम ₹10 लाख का जमा कराया है तो आप के बाद यदि आप इन दोनों ऑप्शन में से किसी एक का चुनाव करते हैं तो यह प्रीमियम नॉमिनी को पूरा वापस मिल जाएगा।

यदि आप बाकी ऑप्शंस में से किसी ऑप्शन को चुनेंगे तो पैसा वापस नहीं मिलेगा। इन सभी ऑप्शंस को हम आगे उदाहरण के साथ समझेंगे।

LIC Jeevan Akshay 857 जॉइंट लाइव कवरेज –

यदि आप जॉइंट लाइव कवरेज लेना चाहते हैं तो आप अपने जीवनसाथी को, अपने बच्चों को, अपने माता पिता को, नाती पोतों को, भाई बहन को, दादा-दादी या नाना-नानी को भी ऐड कर सकते हैं।

LIC Jeevan Akshay 857 में मेच्योरिटी बेनिफिट-

इस प्लान में कोई भी मैच्योरिटी बेनिफिट नहीं है केवल सर्वाइवल बेनिफिट है या कुछ ऑप्शंस में डेथ बेनिफिट है।

ALSO READ  LIC Bima Bachat 916 Plan in Hindi | एलआईसी बीमा बचत 916 प्लान पूरी जानकारी हिंदी में

LIC Jeevan Akshay 857 के लिए पात्रता-

मिनिमम परचेज प्राइस – यदि आप इस पॉलिसी को खरीदना चाहते हैं तो आप इसे ₹1,50,000 देकर खरीद सकते हैं। और ज्यादा से ज्यादा आप कितने रुपए भी देकर यह पॉलिसी खरीद सकते हैं। साथ में आपको इस बात का भी ध्यान रखना होगा कि पॉलिसी लेते समय आपको उतने वैल्यू की पॉलिसी लेनी होगी जिससे आपकी मंथली पेंशन ₹1000 हो सके।

वैसे तो इस पॉलिसी को आप ₹1,50,000 देकर खरीद सकते हैं लेकिन बीमा धारक की उम्र और चुने गए मोड के अनुसार यह प्रीमियम 1,50,000 से ज्यादा का भी हो सकता है।

उम्र – जीवन अक्षय को लेने के लिए आपकी उम्र कम से कम 30 वर्ष होनी चाहिए और ज्यादा से ज्यादा 85 वर्ष। अर्थात 30 वर्ष से कम उम्र के व्यक्ति और 85 वर्ष से ज्यादा उम्र के व्यक्ति इस पॉलिसी को नहीं ले सकते। केवल ऑप्शन F के लिए यह उम्र 100 वर्ष है।

LIC Jeevan Akshay 857 दिव्यांगजन सुविधा –

हैंडीकैप लोगों के लिए जीवन अक्षय में मिनिमम प्रीमियम की कोई रिस्ट्रिक्शंस नहीं है। उनके लिए केवल 50,000 में भी यह पॉलिसी ली जा सकती है।

यह पॉलिसी नेशनल पेंशन सब्सक्राइबर के लिए भी खास सुविधा उपलब्ध करवाती है और उनके लिए भी इस पॉलिसी में कोई प्रीमियम की कोई लिमिट नहीं है।

LIC Jeevan Akshay 857 में रिबेट –

रिवेट का मतलब होता है प्रीमियम में डिस्काउंट। जीवन अक्षय हाई परचेज प्राइस के लिए रिबेट प्रदान करती है। इसका मतलब आप जितने ज्यादा पैसे देकर इस पॉलिसी को खरीदोगे आपको सिंगल प्रीमियम में उतना ही ज्यादा डिस्काउंट मिलेगा।

रिबेट कुछ इस प्रकार है जिसे आप टेबल में देख सकते हैं। यह प्रति रुपए प्रति हजार है।

LIC Jeevan Akshay 857 डेथ बेनिफिट –

  • जीवन अक्षय में डेथ बेनिफिट केवल ऑप्शन F और ऑप्शन J के लिए उपलब्ध है।
  • इस पॉलिसी के अंतर्गत डेथ बेनिफिट के तीन ऑप्शंस उपलब्ध है जिसमें किसी एक का चुनाव बीमा धारक को पॉलिसी लेते समय करना होता है। और जिसे वह जब तक जीवित है तब तक बदलवा भी सकते हैं। उसी के अनुसार नॉमिनी को डेथ बेनिफिट का भुगतान होगा।
    • Lumpsump Death Benefit – इस ऑप्शन के तहत नॉमिनी को सारा पैसा एक साथ मिल जाता है।
    • Annuitisation of Death Benefit – इस ऑप्शन के तहत नॉमिनी को पैसा नहीं मिलता बल्कि पॉलिसी कंटिन्यू रहती है और नॉमिनी को पेंशन मिलती रहती है।
    • In Installment – इस ऑप्शन के तहत नॉमिनी को सारा पैसा एक साथ नहीं मिलता बल्कि चुने हुए पीरियड जैसे 5 साल 10 साल या 15 साल के इंटरवल में मिलता है।

LIC Jeevan Akshay 857 टैक्स बेनिफिट –

इस पॉलिसी के अंतर्गत आप जो भी प्रीमियम देते हैं उसकी छूट आपको इनकम टैक्स के सेक्शन 80C के अंतर्गत मिलती है। और जो पेंशन का भुगतान होता है वह आपकी इनकम में जोड़ता है और उस पर टैक्स लगता है।

ALSO READ  LIC Jeevan Anand 915 Plan Details in Hindi | LIC जीवन आनंद 915 प्लान पूरी जानकारी

लेकिन जो डेथ बेनिफिट होता है वह पूरी तरीके से टैक्स फ्री होता है।

LIC Jeevan Akshay 857 सेरेंडर –

जीवन अक्षय को केवल आप ऑप्शन F और ऑप्शन J में ही सरेंडर करवा सकते हैं। इस पॉलिसी को आप पॉलिसी लेने के 3 महीने बाद ही सरेंडर करवा सकते हैं।

LIC Jeevan Akshay 857 में लोन सुविधा –

जीवन अक्षय में आप केवल ऑप्शन F और ऑप्शन J में ही लोन ले सकते हैं। पॉलिसी के अंतर्गत लोन की सुविधा पॉलिसी लेने के 3 महीने बाद उपलब्ध है।

LIC Jeevan Akshay 857 का सभी ऑप्शंस के साथ उदाहरण –

आगे बढ़ने से पहले आप यह जान ले कि आप पॉलिसी लेते समय जो भी ऑप्शन का चुनाव करेंगे उसको आप बाद में नहीं बदलवा सकते। इसलिए इसका चुनाव सोच समझ कर करें।

उदाहरण के लिए मिस्टर दिनेश जिनकी आयु 60 वर्ष है और उन्होंने 10 लाख रुपए के Sum Assured के लिए यह पॉलिसी ली है और वह हर महीने पेंशन पाने वाले ऑप्शन का चुनाव करते हैं। जिसके लिए उन्हें ₹10,18,000 के प्रीमियम का भुगतान करना होगा जो कि GST के साथ है।

Option A – इस ऑप्शन के तहत बीमा धारक जब तक जीवित है उनको पेंशन मिलती रहेगी और उनकी मृत्यु के बाद पेंशन बंद हो जाएगी। मतलब इसमें किसी भी प्रकार का डेथ बेनिफिट नहीं है। यदि मिस्टर दिनेश इस ऑप्शन का चुनाव करते हैं तो उन्हें हर महीने ₹6,371 पेंशन के रूप में मिलता रहेगा जब तक वह जीवित रहते हैं। उनकी मृत्यु के बाद पेंशन बंद हो जाएगी और किसी को कुछ नहीं मिलेगा चाहे उनकी मृत्यु पॉलिसी लेने के 1 वर्ष बाद हो या 10 वर्ष बाद इससे कोई फर्क नहीं पड़ता।

Option B – इस ऑप्शन के तहत बीमा धारक को 5 साल तक पेंशन मिलती रहने की गारंटी मिलती है। इसका मतलब यदि बीमा धारक की 5 साल से पहले मृत्यु हो भी जाती है तो भी नॉमिनी को पॉलिसी के 5 साल होने तक पेंशन मिलती रहेगी। और उसके बाद पेंशन समाप्त हो जाएगी और किसी को कुछ नहीं मिलेगा। यदि मिस्टर दिनेश इस ऑप्शन का चुनाव करते हैं तो उन्हें हर महीने ₹6,329 पेंशन के रूप में मिलेगा।

Option C- इस ऑप्शन के तहत बीमा धारक को 10 साल तक पेंशन मिलती रहने की गारंटी मिलती है। इसका मतलब यदि बीमा धारक की 10 साल से पहले मृत्यु हो भी जाती है तो भी नॉमिनी को पॉलिसी के 10 साल होने तक पेंशन मिलती रहेगी। और उसके बाद पेंशन समाप्त हो जाएगी और किसी को कुछ नहीं मिलेगा। यदि मिस्टर दिनेश इस ऑप्शन का चुनाव करते हैं तो उन्हें हर महीने ₹6,221 पेंशन के रूप में मिलेगा।

Option D – इस ऑप्शन के तहत बीमा धारक को 15 साल तक पेंशन मिलती रहने की गारंटी मिलती है। इसका मतलब यदि बीमा धारक की 15 साल से पहले मृत्यु हो भी जाती है तो भी नॉमिनी को पॉलिसी के 15 साल होने तक पेंशन मिलती रहेगी। और उसके बाद पेंशन समाप्त हो जाएगी और किसी को कुछ नहीं मिलेगा। यदि मिस्टर दिनेश इस ऑप्शन का चुनाव करते हैं तो उन्हें हर महीने ₹6,063 पेंशन के रूप में मिलेगा।

ALSO READ  LIC Saral Jeevan Bima 859 in Hindi | एलआईसी सरल जीवन बीमा 859 हिंदी में

Option E – इस ऑप्शन के तहत बीमा धारक को 20 साल तक पेंशन मिलती रहने की गारंटी मिलती है। इसका मतलब यदि बीमा धारक की 20 साल से पहले मृत्यु हो भी जाती है तो भी नॉमिनी को पॉलिसी के 20 साल होने तक पेंशन मिलती रहेगी। और उसके बाद पेंशन समाप्त हो जाएगी और किसी को कुछ नहीं मिलेगा। यदि मिस्टर दिनेश इस ऑप्शन का चुनाव करते हैं तो उन्हें हर महीने ₹8,863 पेंशन के रूप में मिलेगा।

Option F – इस ऑप्शन के तहत बीमा धारक जब तक जीवित हैं उन्हें पेंशन मिलता रहेगा और उनकी मृत्यु के बाद नॉमिनी को परचेज प्राइस वापस हो जाएगा। उदाहरण के लिए यदि बीमा धारक ने यह पॉलिसी 10 लाख रुपए देकर खरीदी है तो उनकी मृत्यु के बाद नॉमिनी को 10 लाख रुपए वापस मिल जाएंगे। यदि मिस्टर दिनेश इस ऑप्शन का चुनाव करते हैं तो उन्हें हर महीने ₹4,321 पेंशन के रूप में मिलेगा।

Option G – यह ऑप्शन बिल्कुल ऑप्शन A की तरह है, फर्क सिर्फ इतना है कि जो पेंशन का अमाउंट है वह हर साल 3% से बढ़ता जाएगा। यदि मिस्टर दिनेश इस ऑप्शन का चुनाव करते हैं तो उन्हें हर महीने ₹5,063 पेंशन के रूप में मिलेगा। और यह हर साल 3% से यानी कि लगभग ₹150 सालाना के हिसाब से बढ़ता जाएगा।

Option H – इस ऑप्शन के तहत बीमा धारक अपने अलावा एक एक और लाइफ को इस प्लान में ऐड कर सकते हैं। बीमा धारक जब तक जीवित रहते हैं उन्हें पूरा पेंशन मिलेगा और उनकी मृत्यु के बाद दूसरी लाइफ को बीमा धारक को मिलने वाली पेंशन का 50% मिलेगा। यानी दूसरी लाइफ को आधी पेंशन मिलेगी और यह तब तक मिलेगी जब तक वह जीवित रहती है।

यहां पर मिस्टर दिनेश ने सेकंड लाइफ के तौर पर अपनी वाइफ को जोड़ा है जिनकी उम्र 60 वर्ष है। तो इस केस में मिस्टर दिनेश को हर महीने 5,971 पेंशन मिलती रहेगी। और उनकी मृत्यु के बाद उनकी पत्नी को ₹2,985 प्रतिमाह मिलते रहेंगे।

Option I – यह ऑप्शन बिल्कुल ऑप्शन H की तरह है यानी ऊपर वाले ऑप्शन की तरह है। फर्क सिर्फ इतना है कि बीमा धारक की मृत्यु के बाद सेकंड लाइफ को भी उतना ही पेंशन मिलेगा जितना बीमा धारक को मिलता था। यदि मिस्टर दिनेश इस ऑप्शन का चुनाव करते हैं तो उन्हें प्रतिमाह 5,621 रुपए की पेंशन मिलती रहेगी।

Option J – इसमें भी दो लाइफ की कवरेज रहेगी। यदि मिस्टर दिनेश इस ऑप्शन का चुनाव करते हैं तो उन्हें हर महीने ₹4,313 की पेंशन मिलती रहेगी। उनकी मृत्यु के बाद उनके जीवन साथी को पेंशन मिलेगी। और उनके जीवन साथी की मृत्यु के बाद नॉमिनी को परचेज प्राइस यानी जमा कराया गया प्रीमियम वापस मिल जाएगा।

तो दोस्तों यह थी जीवन अक्षय प्लान की पूरी जानकारी यदि आप इस प्लान की वीडियो देखना चाहते हैं तो यहां क्लिक करें-

एलआईसी की अन्य पॉलिसी देखने के लिए यहां क्लिक करें-

Leave a Comment

Neeraj Chopra: नीरज चोपड़ा की वजह से भारत को पहली बार मिले ये पदक, जापान से लेकर अमेरिका तक किया कमाल इन 6 आदत वालों को कभी परेशान नहीं करते हैं शनि देव कहीं बर्बादी की दिशा में तो नहीं खुलता आपके घर का दरवाजा? जानें क्या कहता है वास्तु शास्त्र Chanakya Niti: इन 4 जगहों पर पैसा खर्च करने में कभी नहीं करनी चाहिए कंजूसी सोमवार को इस एक गलती से नाराज हो सकते हैं भगवान शिव, जानें प्रसन्न करने का उपाय