Navi Personal Loan Full Details in Hindi|Navi Personal Loan की पूरी जानकारी हिंदी में|How To Apply For Navi Personal Loan in Hindi

दोस्तों पर्सनल लोन एक ऐसी चीज है जो आज की डेट में लाखों लोगों की जरूरत है। किसी को शादी के लिए पैसा चाहिए, किसी को घूमने के लिए पैसे चाहिए या किसी को अर्जेंट जरूरत है पैसे की। तो ऐसे में हम पर्सनल लोन की जगह कोई और लोन नहीं ले सकते अगर हमें पैसे की अर्जेंट जरूरत है तो।

पर्सनल लोन लेना है तो उसके लिए हमारे पास दो ऑप्शन है या तो बैंक या Navi Personal Loan. असल में इस पर्सनल लोन का Navi Personal Loan नाम नहीं है। नवी एक कंपनी का नाम है जो सभी प्रकार के इंश्योरेंस देती है जैसे हेल्थ इंश्योरेंस, होम लोन, म्युचुअल फंड, पर्सनल लोन आदी। इस कंपनी ने सबसे ज्यादा पर्सनल लोन ही दिए हैं इसलिए लोगों ने इसका नाम Navi Personal Loan रख दिया।

इस पोस्ट में हम यही देखेंगे कि अगर आपको पर्सनल लोन लेना है, तो आपके लिए बैंक सही रहेगा या फिर Navi Personal Loan –

अगर बात करें बैंक की तो बैंक से पर्सनल लोन लेने पर हमें 12% से 25% तक का ब्याज चुकाना पड़ता है यानी कि 12% से शुरुआत हो जाती है और 25% तक जाती है। यह सब निर्भर करता है की आपका सिविल स्कोर और पहले का क्रेडिट स्कोर कितना है।

अगर आप को बैंक से पर्सनल लोन लेना है तो आपके पास दो तरीके हैं या तो आप ऑनलाइन अप्लाई कर सकते हो या फिर आप ब्रांच जाकर अप्लाई कर सकते हो। लेकिन अगर Navi Personal Loan लोन लेना चाहते हो तो आपके पास एक ही तरीका है कि आपको अपने फोन में Navi Personal Loan का ऐप डाउनलोड करना होगा।

ALSO READ  HDFC Home Loan in Hindi |एचडीएफसी होम लोन की पूरी जानकारी हिंदी में|HDFC Home Loan Ki Details Hindi Mein

अगर हम बैंक से पर्सनल लोन अप्लाई करते हैं तो इंटरेस्ट रेट 25% से 30% तक जाता है। अब आपके मन में यह सवाल आना चाहिए कि पर्सनल लोन पर इतना ज्यादा इंटरेस्ट क्यों है ? क्योंकि अगर हम बाकी लोन के मुकाबले देखे जैसे कि होम लोन या कार लोन तो उनमें इतना ज्यादा इंटरेस्ट रेट नहीं होता।

पर्सनल लोन पर इंटरेस्ट रेट ज्यादा होने का कारण यही है कि यह एक Unsecured लोन होता है । यानी कि इसमें बैंक लोन के बदले आपसे कोई गारंटी नहीं लेता और दूसरी तरफ अगर बात करें होम लोन की तो इसमें आपको लोन के बदले अपना घर गिरवी रखवाना होता है या फिर और किसी तरीके की गारंटी देनी होती है जिससे बैंक को अपना पैसे डूबने का डर खत्म हो जाता है।

लेकिन पर्सनल लोन एक एसी चीज़ है जो बैंक आपको तुरंत दे देता है, केवल आपका सिविल स्कोर देख कर।

नवी पर्सनल लोन और बैंक के पर्सनल लोन में क्या फर्क है ?

अगर हम बात करें बैंक की तो कोई भी बैंक आपको पर्सनल लोन पर 10% से कम इंटरेस्ट रेट नहीं देगा चाहे आप का सिविल स्कोर कितना भी अच्छा क्यों ना हो। लेकिन Navi Personal Loan वाले कहते हैं कि हमारे इंटरेस्ट रेट स्टार्ट होते हैं 9.90% से। इसका मतलब यह नहीं है कि सबको ही 9.90% से लोन मिल जाएगा। इसका मतलब यह है कि यह इनके स्टार्टिंग इंटरेस्ट रेट है। यानी कि यह कहते हैं कि जहां बैंक पर्सनल लोन स्टार्ट करता है 12% से वहीं हम 9.90% से स्टार्ट करते हैं।

लेकिन अगर आप इनकी वेबसाइट पर देखेंगे तो वहां इन्होंने यह 9.90% से स्टार्टिंग जरूर लिखा है लेकिन इन्होनें यह भी लिखा है कि यह इंटरेस्ट रेट 36% तक भी जा सकता हैं। यह इंटरेस्ट रेट निर्भर करता हैं की आपका सिविल स्कोर कितना है । जब आप Navi Personal Loan अप्लाई करोगे तब लास्ट में आपको दिखाएगा कि आपको कितना लोन मिलेगा और कितने पर्सेंट इंटरेस्ट रेट पर मिलेगा।

ALSO READ  Bank Of Baroda Home Loan Full Information in Hindi |बैंक ऑफ़ बड़ौदा होम लोन के बारे में पूरी जानकारी

अगर बात करें बैंक की, तो बैंक से अगर आप लोन लेंगे तो आपको लगभग 3 परसेंट फाइल चार्ज यानी की प्रोसेसिंग फीस देनी होगी। यह फीस अलग-अलग बैंकों की अलग अलग होती है। कोई बैंक 2% चार्ज करता है तो कोई 1%

दूसरी तरफ अगर हम Navi Personal Loan की बात करें तो यह आप से 3.99% से लेकर 6% तक की प्रोसेसिंग फीस लेते है। अगर देखा जाए तो बैंक इस मामले में आगे निकल जाता हैं।

दूसरी तरफ इंटरेस्ट रेट की बात करें तो दोनों में ही इंटरेस्ट रेट जो भी हो लेकिन आपको इंटरेस्ट रेट आपके सिविल स्कोर के हिसाब से ही मिलेगा।

दोस्तों अगर आप बैंक से पर्सनल लोन लेते हो तो उसका एक नुकसान क्या है कि अगर आपने ऑनलाइन पर्सनल लोन की रिक्वेस्ट दे दी तो एक हफ्ते बाद आपके पास बैंक का रिप्लाई आएगा, और अगर आप ऑनलाइन भी सारे डॉक्यूमेंट अपलोड कर देते हो तो भी एक लंबा प्रोसेस हो जाता है। यानी कि इसमें 1 हफ्ते से लेकर 10 दिन तक का टाइम लग जाता है। हम प्रैक्टिकल बात कर रहे हैं, क्योंकि लिखने को तो कुछ बैंक अपनी वेबसाइट में यह भी लिखते हैं कि हम आपको एक घंटे पर्सनल लोन अलोट कर देते हैं। लेकिन अगर बात करें Navi Personal Loan की तो इनकी खास बात यह है कि अगर आपका क्रेडिट स्कोर अच्छा है तो यह आपको तुरंत लोन दे देते हैं।

अगर आप लोन या 2-3 EMI नहीं भर पाते तो हो सकता है Navi Personal Loan वाले आपके फोन के Contact पर किसी को भी कॉल करें। क्योंकि जब आप Navi Personal Loan में लोन के लिए अप्लाई करते हो तो यह आपसे आपके कोंतक्ट्स की परमिशन मांगता है। और हमारे फोन के सारे Contact Number कंपनी के पास चले जाते हैं जिसकी हमें भनक तक नहीं लगती।

ALSO READ  SBI Personal Loan in Hindi | SBI Personal Loan के लिए कैसे अप्लाई करें ?
Navi Personal Loan Full Details in Hindi|Navi Personal Loan की पूरी जानकारी हिंदी में|How To Apply For Navi Personal Loan in Hindi
Navi Personal Loan Full Details in Hindi|Navi Personal Loan की पूरी जानकारी हिंदी में|How To Apply For Navi Personal Loan in Hindi

लेकिन दूसरी तरफ बैंक ऐसा नहीं करते। बैंक आपके Contact को फोन नहीं करते। अगर बैंक की रेपुटेशन अच्छी है तो वह केवल आपसे ही कांटेक्ट करेगा वह आपके रिश्तेदारों को फोन करके परेशान नहीं करेगा।

बैंक यह कहता है कि हम पर्सनल लोन केवल उन्हीं लोगों को देंगे जो लोग सैलरी वाले हैं यानी कि बैंक का पर्सनल लोन केवल सैलरीड क्लास लोगों के लिए है अगर आप सेल्फ एंप्लॉयड हैं या बिजनेस मैन है तो बैंक आपको बिजनेस लोन ही देगा।

बात करें Navi Personal Loan की तो कोई भी व्यक्ति चाहे सैलरी वाला हो या बिजनेस मैन इस लोन के लिए अप्लाई कर सकता है।

लेट EMI देने पर कितना फाइन लगेगा ?

Navi Personal Loan में लेट EMI देने पर जितनी EMI आपने नहीं दी उस पर 2% पेनल्टी लगेगी। अगर आपकी 10,000 की किस्त थी और आपने 2,000 भर दिए लेकिन 8000 नहीं भरे तो 8000 का 2% यानी कि ₹160 की आपको पेनेल्टी देनी होगी।

तो दोस्तों अगर आपको कोई जल्दबाजी नहीं है तो आप पर्सनल लोन के लिए बैंक की तरफ जा सकते हैं लेकिन अगर आप को एकदम अर्जेंट लोन चाहिए तो आप Navi Personal Loan की तरफ जा सकते हैं।

नवी पर्सनल लोन अप्लाई करने के लिए यहां दबाये

अगर आप SBI पर्सनल लोन के बारे में जानना चाहते हैं तो यहां दबाये

1 thought on “Navi Personal Loan Full Details in Hindi|Navi Personal Loan की पूरी जानकारी हिंदी में|How To Apply For Navi Personal Loan in Hindi”

Leave a Comment

Neeraj Chopra: नीरज चोपड़ा की वजह से भारत को पहली बार मिले ये पदक, जापान से लेकर अमेरिका तक किया कमाल इन 6 आदत वालों को कभी परेशान नहीं करते हैं शनि देव कहीं बर्बादी की दिशा में तो नहीं खुलता आपके घर का दरवाजा? जानें क्या कहता है वास्तु शास्त्र Chanakya Niti: इन 4 जगहों पर पैसा खर्च करने में कभी नहीं करनी चाहिए कंजूसी सोमवार को इस एक गलती से नाराज हो सकते हैं भगवान शिव, जानें प्रसन्न करने का उपाय