Sudhir Chaudhary Biography in Hindi | Sudhir Chaudhary Ki Biography Hindi Mein

आज हम बात करने जा रहे हैं देश के सुप्रसिद्ध पत्रकार सुधीर कुमार चौधरी के बारे में। यह मी मराठी और लाइव इंडिया चैनल के भी संपादक रह चुके हैं। Sudhir Chaudhary ने अपने करियर की शुरुआत सन 2001 में की थी। यह कई हिंदी और मराठी चैनलों पर टेलिपोर्टर भी रह चुके हैं। सुधीर चौधरी का डीएनए कार्यक्रम बहुत ही लोकप्रिय है।

इन्हीं सन 2013 में हिंदी ब्रॉडकास्ट कैटेगरी के अंतर्गत रामनाथ गोयनका अवार्ड से सम्मानित भी किया गया था। आज हम इन्हीं के जीवन से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण बातें आपको बताने जा रहे हैं।

Sudhir Chaudhary Birthday, Height, Weight and Qualification

सुधीर चौधरी का जन्म 7 जून 1974 को हरियाणा के डिस्ट्रिक्ट पलवल में हुआ था। बात करें फिजिकल अपीरियंस की तो इनकी हाइट 5.8 इंच और वजन लगभग 71 किलो है। इन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी से बैचलर ऑफ आर्ट्स किया है। इसके बाद इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ मास कम्युनिकेशन से पत्रकारिता में डिप्लोमा प्राप्त किया। यह स्वयं एक जर्नलिस्ट, न्यूज़ एंकर और एडिटर भी हैं।

Sudhir Chaudhary Personal Life

अगर इनकी पर्सनल लाइफ की बात करें तो इनका विवाह नीति चौधरी से हुआ है और जिससे इनका एक बेटा भी है। सुधीर 1990 के दशक से टेलीविजन और समाचार जगत में कार्य कर रहे हैं। सुधीर ने जी न्यूज़ में जर्नलिस्ट के तौर पर काम किया जब से ज़ी न्यूज़ की स्थापना हुई थी। ज़ी न्यूज़ में उन्होंने कारगिल युद्ध सहित संसद हमले से जुड़ी बड़ी खबरों को बेहतरीन ढंग से प्रस्तुत किया था। इसके अलावा उन्होंने सहारा इंडिया और लाइव इंडिया जैसे चैनल पर भी काम किया है।

Sudhir Chaudhary Biography in Hindi | सुधीर चौधरी की पूरी बायोग्राफी हिंदी में
Sudhir Chaudhary Biography in Hindi | सुधीर चौधरी की पूरी बायोग्राफी हिंदी में

अपनी डीएनए प्रोग्राम के संदर्भ में जानकारी देते हुए बताते हैं कि इस प्रोग्राम की तैयारी के समय उन्होंने शहर गांव के लोगों से मुलाकात की थी जहां उन्हें यह जानकारी मिली की उन लोगों को सभी चैनलों पर दिखाए जाने वाली खबरों को तोड़ मरोड़ कर दिखाया जाता है। और इसी जानकारी से सुधीर चौधरी ने अनुमान लगा लिया था कि लोगों को ब्रेकिंग न्यूज़ नहीं मिलती छोटे और बड़े शहरों की सच्चाई खबरों के जरिए दिखाना उचित रहेगा।

ALSO READ  Guru Purnima Kyu Manai Jaati Hai ?|गुरु पूर्णिमा क्यों मनाई जाती है ? | Why Guru Purnima is Celebrated in Hindi ?

साथ ही छोटे और बड़े शहरों में अच्छे कार्य कर रहे लोगों के बारे में अगर उनके शो में बताया जाएगा तो वह भी बहुत अच्छा लगेगा। यह सब सोचकर उन्होंने डीएनए प्रोग्राम शुरू किया और भारत की जनता को उनका खबर बढ़ने का अंदाज खासा पसंद आया। देखते-देखते यह शो सफलता की ऊंचाइयां छूने लगा और सुधीर चौधरी की कामयाबी से आज पूरा देश परिचित है।

Air Force Kaise join Karen – Click Here

Leave a Comment

Neeraj Chopra: नीरज चोपड़ा की वजह से भारत को पहली बार मिले ये पदक, जापान से लेकर अमेरिका तक किया कमाल इन 6 आदत वालों को कभी परेशान नहीं करते हैं शनि देव कहीं बर्बादी की दिशा में तो नहीं खुलता आपके घर का दरवाजा? जानें क्या कहता है वास्तु शास्त्र Chanakya Niti: इन 4 जगहों पर पैसा खर्च करने में कभी नहीं करनी चाहिए कंजूसी सोमवार को इस एक गलती से नाराज हो सकते हैं भगवान शिव, जानें प्रसन्न करने का उपाय