मंगलवार के दिन ये काम करने से नाराज हो जाते हैं हनुमान जी, जानें पूजन का सही तरीका

मंगलवार का दिन हनुमान जी की उपासना के लिए सर्वोत्म माना जाता है. इस दिन मंदिरों में भक्तों का अंबार लगा होता है.

बजरंगबली को प्रसन्न करने के लिए कोई मंत्र जाप करता है तो कोई चालीसा या हनुमानाष्टक का पाठ करता है लेकिन मंगलवार को कुछ ऐसे काम हैं जो नहीं करने चाहिए.

इन कामों को करने से बजरंगबली नाराज हो जाते हैं.

मंगलवार का दिन हनुमान जी और मंगलदेव को समर्पित होता है. इस दिन व्रत रखने और हनुमान जी की पूजा करने से सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं.

साथ ही इस दिन व्रत रखने से कुंडली में मंगल ग्रह भी मजबूत होता है. मंगलवार का व्रत रखते समय कुछ बातों का खास ख्याल रखने की जरूरत होती है.

इस दिन जाने -अंजाने में की गई गलती के कारण बजरंगबली आपसे नाराज हो सकते हैं.

आइए जानते हैं इस दिन क्या नहीं करना चाहिए और किस तरह करनी चाहिए हनुमान जी की पूजा.

मंगलवार के दिन ना करें ये काम नमक ना खाएं- मंगलवार के दिन नमक का सेवन नहीं करना चाहिए. 

इससे आपको हर काम में बाधा का सामना करना पड़ता है और सेहत पर भी काफी बुरा असर पड़ता है.

इस दिशा में यात्रा करना वर्जित- मंगलवार के दिन पश्चिम और उत्तर दिशा में यात्रा करना वर्जित माना जाता है.

अगर आपको किसी कारणवश इन दिशाओं में यात्रा करनी भी है तो घर से गुड़ खाकर निकलें.

ना खाएं ये चीजें- मंगलवार के दिन मांस, मछली अंडा का सेवन नहीं करना चाहिए. इससे आपका अच्छा खासा जीवन बर्बाद हो सकता है.

कर्ज देने से बचें- मंगलवार के दिन किसी को भी कर्ज नहीं देना चाहिए. इस दिन कर्ज देने से उसके वापस मिलने की संभावना काफी कम हो जाती है.

आप इस दिन किसी से लिए हुए पैसे वापस कर सकते हैं.

क्रोध से बचें- मंगलवार के दिन क्रोध से बचना चाहिए. साथ ही इस दिन किसी से भी लड़ाई-झगड़ा या अपशब्द नहीं बोलने चाहिए.

ना खरीदें लोहे का सामान- इस दिन लोहे का समान खरीदना भी अशुभ माना जाता है.

स्टील के बर्तन और धारवाली चीजें जैसे कि नेल कटर, चाकू और कैंची इस दिन नहीं खरीदनी चाहिए. इस दिन नया वाहन खरीदना भी अशुभ माना जाता है.

मंगलवार के दिन इस तरह करें हनुमान जी की पूजा अगर आप मंगलवार का व्रत रख रहे हैं तो कम से कम 21 मंगलवार के व्रत जरूर रखें.

व्रत वाले दिन सुबह जल्दी उठें और स्नान के बाद साफ कपड़े पहन लें.

इसके बाद पूजा स्थल की सफाई करें और एक चौकी में हनुमान जी की मूर्ति या प्रतिमा रख लें.

हनुमान जी के सामने घी के तेल का दीपक जलाएं. हनुमान जी को फूलों की माला पहनाएं और उनके सामने चमेली का तेल रखें.

फिर पूजा करने के बाद हनुमान चालीसा का पाठ करें. हनुमान जी को प्रसाद अर्पित करें. इस दिन लाल रंग के कपड़े पहनना शुभ माना जाता है.