कब है गणेश चतुर्थी? इस तारीख से शुरू होगा 10 दिन तक चलने वाला गणेश महोत्सव

महाराष्ट्र में गणेश चतुर्थी का महापर्व बड़े ही धूमधाम से मनाया जाता है. दस दिन तक चलने वाले इस महोत्सव में शिव पुत्र गणेश की पूरे विधि विधान से पूजा की जाती है और आखिरी दिन उनका विसर्जन किया जाता है.

ऐसी मान्यताएं हैं कि इन दस दिनों में भगवान गणेश की पूजा करने से मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है.

गवान गणेश को समर्पित गणेश चतुर्थी का त्योहार आने वाला है और इसकी तैयारियां अब जोरों पर है. महाराष्ट्र में गणेश चतुर्थी का महापर्व बड़े ही धूमधाम से मनाया जाता है.

दस दिन तक चलने वाले इस महोत्सव में शिव पुत्र गणेश की पूरे विधि विधान से पूजा की जाती है और आखिरी दिन उनका विसर्जन किया जाता है.

ऐसी मान्यताएं हैं कि इन दस दिनों में भगवान गणेश की पूजा करने से मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है.

हिंदू धर्म की मान्यताओं के अनुसार, गणेश चतुर्थी का त्योहार भाद्रपद माह के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि को मनाया जाता है. गणेश चतुर्थी से ही गणेश महोत्सव की शुरुआत हो जाती है.

पहले दिन गणपति की स्थापना की जाती है और अगले दस दिन यानी अनंत चतुर्दशी तक गणेश पूजन किया जाता है.

सके बाद अनंत चतुर्दशी को गणपति जी का विसर्जन किया जाता है. इस साल गणपति विसर्जन 9 सितंबर को किया जाएगा.

इस साल गणेश चतुर्थी तिथि 30 अगस्त को दोपहर 03 बजकर 33 मिनट से प्रारंभ होगी. 09 सितंबर को अनंत चतुर्दशी पर गणेश जी की मूर्ति विसर्जित की जाएगी.

इन 10 दिनों के भीतर जोर-शोर के साथ गणेश उत्सव मनाया जाएगा. भगवान गणेश के भक्त 10 दिन तक उनकी पूजा-उपासना करेंगे.

इस अवधि में कई खास कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा. आखिर में अनंत चतुर्दशी के दिन 'गणपति बप्पा मोरिया' के जयकारों के साथ एक भव्य रैली निकालेंगे और समुद्र तट पर गणेश विसर्जन करेंगे.