PPF क्या है ? पूरी जानकारी हिंदी में | What is PPF in Hindi

पीपीएफ क्या है ? पूरी जानकारी हिंदी में | What is PPF in Hindi

तो दोस्तों अगर बात करें पीपीएफ यानी पब्लिक प्रोविडेंट फंड की तो इसमें लगाया हुआ आपका पैसा 100% सेफ और सिक्योर है। क्योंकि यहां पर आप जो भी पैसा इन्वेस्ट करते हैं वह स्टॉक मार्केट या म्यूचुअल फंड में नहीं लगाया जाता जहां पर अगर मार्केट ऊपर नीचे होती है तो आपका पैसा भी डूबने का खतरा रहता है। इसमें आप जो भी पैसा इन्वेस्ट करते हो उसमें मैच्योरिटी के टाइम पर गारंटीड रिटर्न दिए जाते हैं।

पीपीएफ अकाउंट में पैसा कितना सुरक्षित है ?

दोस्तों पीपीएफ सरकार द्वारा चलाई गई स्कीम है तो अगर इसमें आपका बैंक डूब भी जाता है तो भी आपका पैसा सुरक्षित रहेगा। चाहे फिर यह अकाउंट आप प्राइवेट बैंक के द्वारा खुलवाओ या फिर सरकारी बैंक के द्वारा आपका पैसा सुरक्षित रहेगा। क्योंकि यह एक सरकारी अकाउंट है, बैंक केवल आपको अकाउंट खोलने की सुविधा प्रदान करता है, अकाउंट आपका सरकार के पास ही सेव रहता है।

पीपीएफ अकाउंट कितने सालों के लिए होता है ?

पीपीएफ अकाउंट एक लोंग टर्म इन्वेस्टमेंट स्कीम है। यह स्कीम पूरे 15 सालों की स्कीम है और इस स्कीम में आपको हर साल कुछ ना कुछ पैसे जमा करवाना जरूरी है। इस स्कीम में यह जरूरी नहीं है कि जितने पैसे आपने पहले साल जमा कराए थे अगले साल भी आपको उतने ही पैसे जमा करवाने हैं।

पीपीएफ अकाउंट में कितने रुपए जमा करवाने पड़ते हैं ?

इस स्कीम में हम 1 साल में ज्यादा से ज्यादा ₹1,50,000 जमा कर सकते हैं और कम से कम ₹500 जमा करवा सकते हैं। इसकी सबसे अच्छी बात यह है कि पूरे साल में आपके पास जो भी एप्ट्रा सेविंग है वह आप इस अकाउंट में जमा करवा सकते हो।

पीपीएफ अकाउंट में कितनी बार पैसे जमा करवा सकते हैं ?

आप साल में ज्यादा से ज्यादा 12 बार इस पीपीएफ अकाउंट में पैसे जमा करवा सकते हो। अगर आप इस स्कीम में पैसा डलवाते हो तो आप ज्यादा से ज्यादा 1,50,000 की टैक्स रिबेट भी ले सकते हो।

पीपीएफ क्या है ? पूरी जानकारी हिंदी में | What is PPF in Hindi
पीपीएफ क्या है ? पूरी जानकारी हिंदी में | What is PPF in Hindi

पीपीएफ अकाउंट में मैच्योरिटी पर क्या होगा ?

तो दोस्तों में मेच्योरिटी होने के बाद हमारे पास 2 ऑप्शन होते हैं –

पहला तो ये कि 15 साल की यह स्कीम पूरी होने के बाद हम अपना पैसा ले ले जो कि हमें ब्याज के साथ मिल जाएगा और जो बिल्कुल टैक्स फ्री भी होगा।

दूसरा ऑप्शन यह कहता है कि 15 साल की स्कीम पूरी होने के बाद भी आप इसको एक्सटेंड भी करवा सकते हो जो कि 5-5 सालों के इंटरवल में होगी। उदाहरण के लिए अगर कोई व्यक्ति 2020 में इस स्कीम को लेता है तो उसकी 15 सालों की स्कीम 2035 में पूरी होगी और अगर वह चाहे तो इस स्कीम को 5 साल और बड़वा कर 2040 में मेच्योरिटी ले सकता है। और अगर वह 2040 में भी मेच्योरिटी नहीं लेना चाहता तो वह इसको 5 साल और बड़वा कर 2045 में ले सकता है।

इसके अलावा जो इसने आगे 5 साल का टाइम बड़वाया है उस टाइम के अंदर भी यह पीपीएफ अकाउंट में पैसा जमा कर सकता है।

पीपीएफ अकाउंट को आप ज्वाइंट अकाउंट के तौर पर नहीं खुलवा सकते बल्कि इसमें आपको इंडिविजुअल अकाउंट ही खुलवाना होगा।

क्या पीपीएफ अकाउंट में बीच में पैसा निकाल सकते हैं ?

तो दोस्तों ऐसे में सरकार कहती है कि पहले कि 3 साल तो आप ना तो पैसा निकाल सकते और ना ही अकाउंट बंद कर सकते हैं और ना ही कोई लोन ले सकते।

इस अकाउंट को आप 5 साल बाद प्रीमेच्योरली बंद करवा सकते हो लेकिन उसके लिए आपके पास वैलिड रीजन होना चाहिए जैसे कि इलाज के लिए या फिर हायर एजुकेशन के लिए, नहीं तो आप पूरे 15 सालों में इस अकाउंट को बंद नहीं करवा सकते।

पीपीएफ अकाउंट में इंटरेस्ट कब मिलेगा ?

तो इसमें आप पूरे साल में जितना भी पैसा जमा करवाओगे उन सबका मिलाके आपको 31 मार्च को ब्याज मिलता है।

इसके अलावा आप जब भी इस अकाउंट में पैसा जमा करें तो कोशिश किए करिएगा कि 1 तारीख से लेकर और 5 तारीख के बीच में ही पैसे जमा करें।

उदाहरण के लिए जैसे अब जून चल रहा है और आपने 4 जून को पैसे जमा करा दिए तो आपको जो ब्याज मिलेगा वह 4 जून को जमा कराए हुए पैसों का भी मिलेगा। उदाहरण के लिए मान लो जून में मेरे अकाउंट में ₹100000 पड़े थे तो जो ब्याज बनेगा वह ₹100000 पर ही बनेगा मान लो मैंने 6 जून को ₹50,000 और जमा किए तो जो जून का इंटरेस्ट बनेगा वह केवल एक लाख पर ही बनेगा 150000 पर नहीं। तो जो मैंने जो ₹50000 जमा किए थे वो जुलाई में गिने जाएंगे। यानी कि मुझे जुलाई में 150000 का ब्याज मिलेगा।

पीपीएफ अकाउंट में कितना % इंटरेस्ट मिलता है ?

पीपीएफ अकाउंट में फिलहाल जो इंटरेस्ट मिल रहा है वो है 7.1%

पीपीएफ में खाता क्यों नहीं खुलवाना चाहिए ?

दोस्तों इस स्कीम में अकाउंट ना खुलवाने का सबसे बड़ा कारण इस पर मिलने वाला इंटरेस्ट ही है. क्योंकि जब यह स्कीम लांच हुई थी तो इस पर मिलने वाला इंटरेस्ट 8.7% था जो अब घटकर 7% रह गया है और ऐसा माना जाता है कि कोई भी विकासशील देश जैसे-जैसे विकास करता है वैसे वैसे उसकी ब्याज दरें भी घटने लगती है। यही चीज हमें सुकन्या समृद्धि योजना में भी देखने को मिलती है जहां पहले इंटरेस्ट रेट 9% था और अब 7% ही रह गया है।

यानी अगर मैं आज इसमें 7% ब्याज पर पैसा लगाता हूं और आने वाले सालों में यह ब्याज 5% रह जाता है तो मैं अपने पैसे नहीं निकाल सकता मुझे ब्याज 5% पर ही मिलेगा।

यहां पर हमने पीपीएफ केलकुलेटर भी दिया है आप इस पर क्लिक करके अपनी मेच्योरिटी वैल्यू निकाल सकते हैं-

1 thought on “PPF क्या है ? पूरी जानकारी हिंदी में | What is PPF in Hindi”

Leave a Comment